न्यूज़ हेडलाइंस Post

Followers

यह ब्लॉग समर्पित है!

"संत श्री 1008 श्री खेतेश्वर महाराज" एवं " दुनिया भर में रहने वाले राजपुरोहित समाज को यह वेबसाइट समर्पित है" इसमें आपका स्वागत है और साथ ही इस वेबसाइट में राजपुरोहित समाज की धार्मिक, सांस्‍क्रतिक और सामाजिक न्‍यूज या प्रोग्राम की फोटो और विडियो को यहाँ प्रकाशित की जाएगी ! और मैने सभी राजपुरोहित समाज के लोगो को एकीकृत करने का ऐसा विचार किया है ताकि आप सभी को राजपुरोहित समाज के लोगो को खोजने में सुविधा हो सके! आप भी इसमें शामिल हो सकते हैं तो फिर तैयार हो जाईये! "हमारे किसी भी वेबसाइट पर आपका हमेशा स्वागत है!"
वेबसाइट व्यवस्थापक सवाई सिंह राजपुरोहित-आगरा{सदस्य} सुगना फाऊंडेशन-मेघलासिया जोधपुर 09286464911

मेरे साथ फेसबुक से जुडिए

21.7.13

सवाई नाम के कितने करुँ बखान...श्री नरपतसिंह राजपुरोहित हमसफ़र

मेरे जन्मदिवस पर एक कविता लिखी युवा कवि और प्रिय भाईसाब श्री नरपतसिंह राजपुरोहित हमसफ़र  आप को पसंद आएगी ...आपका सवाई सिंह राजपुरोहित मेघलासिया 

सवाई नाम के कितने करुँ बखान,
कम पङते है सब गुणगान ,
जन्म से ही सब के चहेते ,
ये मन पंछी हर दिल मेँ रहते ,
श्री बीरम सिंहजी के प्यारे संतान ,
सवाई नाम के कितने करुँ बखान ।।
.....,,,,,,.....
बहुत शुद्ध इनके सुविचार ,
मदद के मौके मेँ हरदम तैयार ,
चार्ज करते है सबके जीवन को ,
सच्ची सीख देते जन-जन को ,
तीन भाईयोँ मेँ छोटे भाईजान ,
सवाई नाम के कितने करुँ बखान ।।
सच्चाई के ये धनी है ,
प्रतिभा इनमे खूब बनी है ,
आगरा मेँ भी मची सनसनी है ,
समाजसेवा के लिये छाती इनकी तनी तनी है ,
अपनी बहनोँ के राखी की शान ,
सवाई नाम के कितने करुँ बखान ।।
......,,,,,,,.......
ऊपरवाले ये तेरी कैसी माया 
लूँट लिया माँ का छाया
बहुत आती है माँ की याद
पर किससे करेँ ये फरियाद ,
करते है साकार माँ सुगना देवी के सपने
बिनसहारोँ की मदद कर बनाते है अपने ,
जारी है माँ के संस्कारोँ की पहचान 
सवाई नाम के कितने करुँ बखान ।।
.......,,,,.,,.........
हो आप सबसे न्यारे
मित्रोँ के सबसे प्यारे
सबके मन मेँ आप बसे हो
रंग रूप मेँ भी खूब जच्चे हो ,
मीत आप पर करते अभीमान
सवाई नाम के कितने करुँ बखान ।।
........,,,,,,,,.......
मेरे तो आप हो भगवन
चाहता हुँ आपको मन ही मन ,
अविरल रहे आपकी मुस्कान
मिले आपको हर मंजिल हर मुकाम
"हमसफर" आपका जिगर-ए-जान
सवाई नाम के कितने करुँ बखान ।।

आपका नरपतसिंह राजपुरोहित हमसफ़र 
युवा कवि श्री नरपतसिंह राजपुरोहित 
यदि हमारा प्रयास आपको पसंद आये तो फालोवर(Join this site)अवश्य बने. साथ ही अपने सुझावों से हमें अवगत भी कराएँ. यहां तक आने के लिये सधन्यवाद.... आपका सवाई सिंह राजपुरोहित

No comments:

Post a Comment

thank u dear
Join fb Page
https://www.facebook.com/rajpurohitpage

हिंदी में लिखिए अपनी...

रोमन में लिखकर स्पेस दीजिए और थोड़ा सा इंतजार कीजिए .... सुगना फाऊंडेशन-मेघालासिया जैसे :- Ram (स्पेस) = राम
अब इस कॉपी करे और पेस्ट करे...सवाई आगरा

आपका लोकप्रिय ब्लॉग अब फेसबुक पर अभी लाइक करे .



Like & Share

Share us

ट्विटर पर फ़ॉलो करें!

Contact me

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Nivedan Hai