न्यूज़ हेडलाइंस Post

Followers

यह ब्लॉग समर्पित है!

"संत श्री 1008 श्री खेतेश्वर महाराज" एवं " दुनिया भर में रहने वाले राजपुरोहित समाज को यह वेबसाइट समर्पित है" इसमें आपका स्वागत है और साथ ही इस वेबसाइट में राजपुरोहित समाज की धार्मिक, सांस्‍क्रतिक और सामाजिक न्‍यूज या प्रोग्राम की फोटो और विडियो को यहाँ प्रकाशित की जाएगी ! और मैने सभी राजपुरोहित समाज के लोगो को एकीकृत करने का ऐसा विचार किया है ताकि आप सभी को राजपुरोहित समाज के लोगो को खोजने में सुविधा हो सके! आप भी इसमें शामिल हो सकते हैं तो फिर तैयार हो जाईये! "हमारे किसी भी वेबसाइट पर आपका हमेशा स्वागत है!"
वेबसाइट व्यवस्थापक सवाई सिंह राजपुरोहित-आगरा{सदस्य} सुगना फाऊंडेशन-मेघलासिया जोधपुर 09286464911

मेरे साथ फेसबुक से जुडिए

15.12.16

ARKYSS की स्थापना की , यह सेवा संघ ही हमारा एक बेनर हो, हर शहर और हर गांव

प्रिय राजपुरोहित बंधुओं,

सादर जय श्री रघुनाथ जी री

आज एक ज्वलंत विषय पर मैं आपका ध्यान आकर्षित करना चाहता हूँ, पिछले दशक से राजपुरोहित भाई बंधुओं ने भारत के कोने कोने में अपनी मेहनत, लगन और दाता श्री खेतेश्वर भगवान् के आशीर्वाद से नाम कमाया, व्यवसाय स्थापित किये और सभी क्षेत्रों में समाज को एक बुद्धिजीवी वणिक वर्ग के रूप में स्थापित किया , इस प्रक्रिया में पूरी एक पीढ़ी ने खुद की आहुति दी तब जाकर वो सफल हो पाये, ये वही पीढ़ी है जिसने घर की गरीबी और पिछड़ेपन का बोझ झेलते हुए कभी दिशावर की तरफ रूख किया, इसी पीढ़ी ने दुनिया के तमाम सुख त्याग कर दिन रात मेहनत की और संघर्ष किया, गांव की स्कूल में पढ़ने लिखने और खेलने के दिनों में किसी बनिए के पास हमाली की, इस पीढ़ी के मन में एक टीस हमेशा बनी रही की काश वो भी कुछ पढ़ पाते, आज जब वो सफलता के सर्वोच्च शिखर पर है उन्हें शिक्षा की अहमियत का अहसास है, यही कारण रहा है की वो अपनी संतानों के साथ सर्व समाज की तरफ भी देखते हैं और शिक्षा के लिए आयोज्य सभी कार्यक्रमों में तन मन और विशेषकर धन से सहयोग करतें हैं, इसी बात का फायदा उठाने समाज में शिक्षा के नाम पर विभिन्न संस्थाओं की बाढ़ सी आ गयी है चौतरफा हर कोई अपनी दुकान खोल के बैठ गएँ हैं और समाज के भामाशाहों से शिक्षा के नाम पर धन एकत्रित करना शुरू कर दिया है, इनमें से कुछ राजनीति से प्रेरित हैं और कुछ निज स्वार्थों से, ऐसी सभी संस्थाये व्यक्तिनिष्ठ अधिक है, ऐसे में समाज के धन के दुरुपयोग की आशंका भी बनी रहती है, ऐसा कदापि नहीं है की सभी संस्थाओं को एक तराज़ू पर तोला जाना चाहिए, मगर ये फ़र्क़ करना आवश्यक है की कोनसी संस्था/समिति/NGO सामाजिक है और कोनसी व्यक्तिनिष्ठ, मेरी समाज के सभी भामासाहों से विनम्र अपील यही है की आप केवल सामाजिक संस्थाओं में अपने धन का दान करें, सहयोग करें, हमारे लिए यह ख़ुशी का विषय है की गुरुमहाराज सा ने इस हेतु ब्रह्मधाम आसोतरा में *खेतेश्वर सहायता निधी* का गठन किया है जिसमें 1.5 करोड़ की राशी का कोष सृजित किया गया है आप चाहें तो इस कोष में आर्थिक सहयोग कर सकतें हैं, भगवान् खेतेश्वर दाता के आशीर्वाद और गुरुमहाराज सा की सत प्रेरणा से स्थापित श्री खेतेश्वर विद्यापीठ बड़ली जोधपुर में भी आप आर्थिक सहयोग कर सकतें हैं, समाज में शिक्षा की राजधानी बड़ली विद्यपीठ है और इसे आगे बढ़ाने में आपका सहयोग अपेक्षित है इसी प्रकार विभिन्न विभिन्न शहरों में स्थापित राजपुरोहित समाज के छात्रावासों में आप अपना अमूल्य सहयोग अर्पित कर सकतें हैं, यह सहयोग पत्थर पर अंकित होकर सदियों तक आपकी अगली पीढ़ीयों को आपके सद्कर्मों की कहानी बयां करता रहेगा,  मेरे कहने का मंतव्य सिर्फ इतना है आप अपना आर्थिक सहयोग केवल उन संस्था/समिति/NGO में करें जो सर्व समाज की है, न की ऐसी संस्थाओं में जो कुछ व्यक्तियों के स्वार्थों से प्रेरित हो, जिनके राजनितिक उदेश्य हों, खेतेश्वर दाता ने हमें एकता के सूत्र में पिरोने के लिए ब्रह्मधाम रुपी देवस्थान की स्थापना की, उन्ही का आशीर्वाद है की आज हम सब पूर्णिमा को एक साथ जय घोष में शामिल होतें हैं, इसी कड़ी में पूज्य श्री तुलसा राम जी महाराज सा की सत प्रेरणा से वेदांताचार्य डॉ ध्यानाराम जी महाराज ने अखिल विश्वराजपुरोहित खेतेश्वर युवा सेवा संघ की स्थापना की , यह सेवा संघ ही हमारा एक बेनर हो, हर शहर और हर गांव और अखिल विश्व के कोने कोने से हम सर्व सामाजिक कार्य इसी बेनर पर कर एकता का परिचय दें इसकी महती आवशयकता है, शिक्षा और संस्कार की इस ज्योति की दौड़ ओलम्पिक मशाल की दौड़ से भी लंबी है, हम सभी बंधुओं को इस ज्योति को आगे बढ़ने का संकल्प लेकर हाथ बढ़ाना है, इसलिए मेरा विशेष आग्रह है उन सभी दान दाताओं से है जो ऐसी व्यक्तिनिष्ठ संस्थाओं से जुड़े हैं जो निज स्वार्थ से प्रेरित हो, एक  बार अवश्य विचार करें , की आपके अमूल्य धन का उपयोग कहाँ और कैसे हो रहा है, मंच से किये गए वादों में कितने पुरे किये जा रहें हैं , महोदय हमारे सामने बहुत से यक्ष प्रश्न हैं, महिला शिक्षा के मामले में अभी हम बहुत आगे नहीं बढ़ पाएं हैं, एक भी शहर में बालिका शिक्षा की वयवस्था सामाजिक स्तर पर नहीं है, जयपुर ,देहली ,कोटा जैसे शहरों में अभी भी कोई छात्रावास सुविधा उपलब्ध नहीं है, समाज के आर्थिक रूप से पिछड़े हजारों युवा आज भी बेहतर कोचिंग पाने में असमर्थ हैं, ऐसे कईं प्रश्न हैं और इसी आड़ में कईं व्यक्तिनिष्ठ संस्थाओं ने जन्म लिया है, आवश्यकता इस बात की है की हम सब इन समस्याओं का समाधान ARKYसेवा संघ के बेनर पर गुरु महारज के निर्देशन में मिलकर करें, बड़ली स्थित श्री खेतेश्वर विद्यापीठ को विश्वस्तरीय बनायें, समाज की संस्थाओं को आगे बढ़ाएं....  

आलेख को पुनः पढ़कर इसका मर्म समझें, और सभी बंधुओं को आगे फॉरवर्ड करें...🙏


No comments:

Post a Comment

Thank u Plz Join fb Page
https://www.facebook.com/rajpurohitpage

हिंदी में लिखिए अपनी...

रोमन में लिखकर स्पेस दीजिए और थोड़ा सा इंतजार कीजिए .... सुगना फाऊंडेशन-मेघालासिया जैसे :- Ram (स्पेस) = राम
अब इस कॉपी करे और पेस्ट करे...सवाई आगरा

आपका लोकप्रिय ब्लॉग अब फेसबुक पर अभी लाइक करे .



Like & Share

Share us

ट्विटर पर फ़ॉलो करें!

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Nivedan Hai