न्यूज़ हेडलाइंस Post

Followers

यह ब्लॉग समर्पित है!

"संत श्री 1008 श्री खेतेश्वर महाराज" एवं " दुनिया भर में रहने वाले राजपुरोहित समाज को यह वेबसाइट समर्पित है" इसमें आपका स्वागत है और साथ ही इस वेबसाइट में राजपुरोहित समाज की धार्मिक, सांस्‍क्रतिक और सामाजिक न्‍यूज या प्रोग्राम की फोटो और विडियो को यहाँ प्रकाशित की जाएगी ! और मैने सभी राजपुरोहित समाज के लोगो को एकीकृत करने का ऐसा विचार किया है ताकि आप सभी को राजपुरोहित समाज के लोगो को खोजने में सुविधा हो सके! आप भी इसमें शामिल हो सकते हैं तो फिर तैयार हो जाईये! "हमारे किसी भी वेबसाइट पर आपका हमेशा स्वागत है!"
वेबसाइट व्यवस्थापक सवाई सिंह राजपुरोहित-आगरा{सदस्य} सुगना फाऊंडेशन-मेघलासिया जोधपुर 09286464911

मेरे साथ फेसबुक से जुडिए

27.1.17

BHARAT RAJPUROHIT & Mahaveer Jain के C.A बनने पर बहुत बहुत बधाई ओर जाने कैसे करे CA आप


BHARAT PRATAP SINGH RAJPUROHIT (SODHA) and Sugana Foundation member Mahaveer Jain के C.A बनने पर बहुत बहुत बधाई एवं शुभकामनाऐ 

VILLAGE-DERIYA ,
CAST-SODHA,
FATHER IS PRATAP SINGH TAGSINGH RAJPUROHIT HE IS ACCOUNT TEACHER IN AHMEDABAD AT R.R.TIWARI CITY HIGH SCHOOL.D

        अगर आप भी सी ए बनना चाहते है क्या करे।।

चार्टर्ड एकाउंटेंसी कोर्स (CA Course):-

चार्टर्ड एकाउंटेंसी कोर्स को पूरा कर लेने वाले व्यक्ति को चार्टर्ड अकाउंटेंट या C.A. कहते है| चार्टर्ड एकाउंटेंसी कोर्स वाणिज्य क्षेत्र का महत्वपूर्ण एंव उच्च स्तर का कोर्स है| यह कोर्स किसी विश्वविध्यालय द्वारा नहीं कराया जाता बल्कि पूरे भारत में इसके लिए एक ही संस्थान “इंस्टिट्यूट ऑफ़ चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ऑफ़ इंडिया (Institute of Chartered Accountants of India – ICAI)” है| यह कोर्स मुख्य रूप से लेखांकन(Accounting), ऑडिट(लेखा पुस्तकों की जाँच), कर-कानून(Tax Laws), कम्पनी एंव अन्य वाणिज्यक कानून (Corporate and other Commercial Laws), लागत लेखांकन(Cost Accounting) एंव वितीय प्रबंधन(Financial Management) आदि विषयों पर केन्द्रित है| यह स्वतंत्र कोर्स है एंव विद्यार्थी चाहे तो इसे स्वंय अध्ययन कर सकता है अथवा चाहे तो प्राइवेट कोचिंग ज्वाइन कर सकता है|        

माध्यम (Medium):- इस कोर्स को अंग्रेजी (English) माध्यम अथवा हिंदी माध्यम किसी भी माध्यम में किया जा सकता है| इस बात से गुणवता एंव स्तर पर कोई फर्क नहीं पड़ता की आप कोर्स को हिंदी में करते हो या अंग्रेजी में|

उतीर्ण योग्यताएं (Passing Criteria):- CA कोर्स का कोई भी एग्जाम उतीर्ण करने के लिए प्रत्येक Group में 50 प्रतिशत कुल औसत अंक लाना आवश्यक है एंव ग्रुप के प्रत्येक विषय में कम से कम 40% अंक लाना आवश्यक है|

करियर(Career):- CA करने के बाद, अगर आप इसी क्षेत्र में करियर बनाना चाहते है तो आपके पास मुख्य रूप से 2 विकल्प होते है| पहला विकल्प है की आप स्वंय अपना ऑफिस खोलकर प्रैक्टिस (practice) शुरू करें एंव स्वतंत्र (independently) रूप से कार्य करें| दूसरा विकल्प यह होता है कि आप किसी कम्पनी या अन्य संस्थान में नौकरी (Job) करें| इसके अलावा इस क्षेत्र में कई अन्य करियर के विकल्प मौजूद है|

CA कैसे करें

इस कोर्स को दो तरह से किया जा सकता है, या तो इसे 12वीं के बाद शुरू किया जा सकता है अथवा इसे ग्रेजुएशन अथवा CWA कोर्स के इंटरमीडिएट अथवा CS कोर्स के इंटरमीडिएट एग्जाम को पास करने के बाद शुरू किया जा सकता है| अगर इसे 12वीं के बाद शुरू किया जाता है तो इसके लिए CPT (एंट्रेंस टेस्ट) देना पड़ता है लेकिन अगर इसे ग्रेजुएशन अथवा CWA कोर्स के इंटरमीडिएट अथवा CS कोर्स के इंटरमीडिएट एग्जाम को पास करने के बाद शुरू किया जाता है तो इसके लिए CPT (एंट्रेंस टेस्ट) देने की जरुरत नहीं पड़ती| ग्रेजुएशन के बाद शुरू करने पर भी CPT देने की जरुरत पड़ेगी अगर कॉमर्स ग्रेजुएट ने ग्रेजुएशन में 55% से कम एंव अन्य ग्रेजुएट (आर्ट्स, साइंस) ने ग्रेजुएशन में 60% से भी कम अंक अर्जित किये है|

CPT – IPCC – Articleship Training – CA Final

Common Proficiecy Course (CPT) Level:- सर्वप्रथम CPT के लिए ICAI के पास रजिस्ट्रेशन करवाना पड़ता है एंव रजिस्ट्रेशन के कुछ दिनों बाद ICAI द्वारा स्वीकृति पत्र (Confirmation Letter) एंव इसकी books, डाक द्वारा भेज दी जाती है| ICAI द्वारा CPT की परीक्षा वर्ष में दो बार जून एंव दिसंबर माह में करायी जाती है| CPT की परीक्षा देने के लिये परीक्षा से कुछ महीने पूर्व exam फॉर्म भरना पड़ता है| CPT परीक्षा में 200 marks बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाते है और पास होने के लिए कम से कम 100 marks लाने अनिवार्य होते है और प्रत्येक विषय में कम से कम 40% मार्क्स अनिवार्य है| ग्रेजुएशन (कॉमर्स में न्युनत्तम 55% एंव अन्य में न्यूनतम 60% अंक) अथवा CWA कोर्स के इंटरमीडिएट अथवा CS कोर्स के इंटरमीडिएट एग्जाम को पास कर चुके विद्यार्थियों को CPT (एंट्रेंस टेस्ट) देने की जरुरत नहीं पड़ती एंव वे सीधा IPC कोर्स से शुरू कर सकते है|

IPCC Level:- CPT एग्जाम पास करने के बाद अथवा ग्रेजुएशन (कॉमर्स में न्युनत्तम 55% एंव अन्य में न्यूनतम 60% अंक) अथवा CWA कोर्स के इंटरमीडिएट अथवा CS कोर्स के इंटरमीडिएट एग्जाम को पास कर चुके विद्यार्थियों को IPCC के लिए रजिस्ट्रेशन करवाना होता है एंव रजिस्ट्रेशन के कुछ दिनों बाद ICAI द्वारा स्वीकृति पत्र (Confirmation Letter) एंव इसकी books, डाक द्वारा भेज दी जाती है | IPCC में 2 ग्रुप होते है जिसमें कुल मिला कर 7 विषय है| IPCC की परीक्षा वर्ष में 2 बार मई एंव नवम्बर में होती है| इस परीक्षा में एक बार में दोनों ग्रुप साथ में पास किये जा सकते है अथवा एक बार में केवल 1 ग्रुप पास किया जा सकता है एंव दूसरा ग्रुप अगली बार में पास किया जा सकता है| IPCC के एग्जाम से पूर्व ICAI द्वारा करवाए जाने वाले कुछ ट्रेनिंग प्रोग्राम जैसे 100 घंटे की ITT(Information Technology Traning) एंव 35 घंटे का ओरिएंटेशन प्रोग्राम आदि करने होते है| IPPC की परीक्षा से पूर्वे CPT की तरह इसमें भी एग्जाम फॉर्म भरना होता है|

Articleship Training:- IPCC के Ist ग्रुप अथवा दोनों ग्रुप को पास करने के बाद 3 वर्ष की प्रैक्टिकल ट्रेनिंग के लिए रजिस्ट्रेशन करवाना पड़ता है| यह ट्रेनिंग practice कर रहे Chartered Accountant के under की जाती है|     

FInal Course :- यह CA कोर्स का अंतिम चरण है| IPCC के दोनों groups को pass कर लेने के बाद एंव 2 वर्ष व 6 महीने की प्रैक्टिकल ट्रेनिंग पूरी कर लेने के बाद CA Final की परीक्षा दी जा सकती है| इसके लिए सर्वप्रथम रजिस्ट्रेशन करवाना होता है एंव रजिस्ट्रेशन के कुछ दिनों बाद ICAI द्वारा स्वीकृति पत्र (Confirmation Letter) एंव इसकी books, डाक द्वारा भेज दी जाती है| परीक्षा से पूर्व एग्जाम फॉर्म भरना होता है| CA Final में 2 ग्रुप होते है जिसमें कुल मिला कर 8 विषय है| CA Final की परीक्षा वर्ष में 2 बार मई एंव नवम्बर में होती है| इस परीक्षा में एक बार में दोनों ग्रुप साथ में पास किये जा सकते है अथवा एक बार में केवल 1 ग्रुप पास किया जा सकता है एंव दूसरा ग्रुप अगली बार में पास किया जा सकता है|

 Membership:- CA Final की परीक्षा उतीर्ण कर लेने एंव ICAI द्वारा करवाये जाने वाले GMCS Program को पूरा कर लेने पर ICAI से Membership प्राप्त हो जाती है एंव इसके बाद वह अपने नाम के आगे CA लगा सकता है|

 

     “CA करने के लिए विद्यार्थी का बचपन में मेधावी होना आवश्यक नहीं है, आवश्यकता केवल दृढ़ निश्चय एंव मेहनत की है|” 


No comments:

Post a Comment

Thank u Plz Join fb Page
https://www.facebook.com/rajpurohitpage

हिंदी में लिखिए अपनी...

रोमन में लिखकर स्पेस दीजिए और थोड़ा सा इंतजार कीजिए .... सुगना फाऊंडेशन-मेघालासिया जैसे :- Ram (स्पेस) = राम
अब इस कॉपी करे और पेस्ट करे...सवाई आगरा

आपका लोकप्रिय ब्लॉग अब फेसबुक पर अभी लाइक करे .



Like & Share

Share us

ट्विटर पर फ़ॉलो करें!

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Nivedan Hai